युवा वोटरों को साधने के लिए इस बार छाया रोजगार गारंटी का मुद्दा 

राज्य में वर्तमान में 18 से 40 वर्ष के बीच के युवाओं की अनुमानित संख्या 38 लाख 31 हजार 394 है। इस लिहाज से यह कुल मतदाता का 48.42 प्रतिशत बैठती है।


प्रदेश में युवा मतदाता निर्णायक स्थिति में हैं। इसलिए राजनीतिक दल युवाओं को साधने की कोशिश में जुटे हैं। भाजपा-कांग्रेस समेत सभी राजनीतिक पार्टियां अपने घोषणा पत्र में युवाओं के मद्देनजर कई घोषणाएं करने जा रही हैं। रोजगार इसके केंद्र में है तो बेरोजगारी भत्ता दिए जाने की बात भी हो रही है। कोशिश यही है अधिक से अधिक युवाओं को अपनी तरफ खींचा जाए।

राज्य में वर्तमान में 18 से 40 वर्ष के बीच के युवाओं की अनुमानित संख्या 38 लाख 31 हजार 394 है। इस लिहाज से यह कुल मतदाता का 48.42 प्रतिशत बैठती है। हालांकि निर्वाचन विभाग की ओर से अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन पांच जनवरी को किया जाएगा। एक नवंबर तक मतदाताओं की संख्या 78 लाख 46 हजार पहुंच गई थी। इनमें 40 लाख 87 हजार 18 पुरुष और 37 लाख 58 हजार 730 महिलाएं हैं। अन्य श्रेणी के मतदाताओं की संख्या 251 है।

कांग्रेस : युवाओं को लुभाने के लिए रोजगार पर फोकस
चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष और पूर्व सीएम हरीश रावत का कहना है कि हम सत्ता में आने पर हर साल दस प्रतिशत नए पद सृजित करेंगे। स्वरोजगार को बढ़ावा देंगे। जिनको रोजगार नहीं दे पाए, उनका बेरोजगारी भत्ता देंगे। सरकार में कैबिनेट के भीतर एक चेक प्वाइंट बनाएंगे, जो कैबिनेट के सामने आने वाले प्रत्येक वित्तीय प्रस्ताव का मूल्यांकन करेगा। सुनिश्चित किया जाएगा कि दस करोड़ या इससे अधिक के वित्तीय प्रस्ताव में कितने नए रोजगार सृजित हो रहे हैं।

कांग्रेस की युवाओं को आकर्षित करने की जो मूलभूत नीति होगी, वह रोजगार सृजन की होगी। स्वरोजगार को उत्तराखंडियत से जोड़ते हुए भी नए तरह के रोजगार विकसित किए जाएंगे। यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुमित्र भुल्लर ने कहा कि यूथ कांग्रेस ने इस बार सत्ता में आने पर तमाम भर्तियों में लिए जाने वाले शुल्क को माफ करने का प्रस्ताव घोषणापत्र में शामिल करने के लिए कहा है। इसके अलावा नई इंडस्ट्री विकसित किए जाने, 70 प्रतिशत स्थानीय युवाओं को रोजगार देने के मुद्दे भी शामिल हैं। उपनल और दूसरे माध्यमों से लंबे समय अस्थायी तौर पर कार्य कर रहे युवाओं को स्थायी किए जाने की भी पैरवी की जा रही है।

वर्ष 2022 में अनुमानित युवा मतदाता
आयुसीमा   – मतदाता
18-19  –  46765
20-29   – 1590828
30-39   – 2193801
कुल योग –   3831394
डिजिटल योद्धा अभियान और सम्मेलनों से युवाओं को साधने की कोशिश
प्रदेश के 38 लाख से अधिक युवा मतदाताओं को साधने के लिए भाजपा रणनीतिक तरीके से काम कर रही है। पार्टी ने इस अभियान पर भारतीय जनता युवा मोर्चा को उतारा है। युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के चेहरे के जरिये युवाओं के बीच जाकर भाजयुमो कार्यकर्ता पार्टी का प्रचार कर रहे हैं। इस पूरे अभियान में पार्टी ने डिजिटल योद्धा अभियान शुरू किया है और अब जल्द सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में वह युवा सम्मेलनों के जरिये युवाओं को अपने पक्ष लाने की कोशिश करती दिखेगी।

ज्यादा से ज्यादा युवाओं को भाजपा के साथ जोड़ने के इस अभियान के बारे में भाजयुमो की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी कहती हैं, हम रणनीतिक तरीके से काम कर रहे हैं। पूरे प्रदेश में सांस्कृतिक कार्यक्रमों, शहरों व कस्बों में चाय पर चर्चा व अन्य गतिविधियों के जरिये युवाओं से संवाद स्थापित किए जा रहे हैं। पार्टी ने हाल ही देवभूमि के डिजिटल योद्धा अभियान छेड़ा है, जिससे अब तक पांच हजार युवाओं ने अपना पंजीकरण करा दिया है। यह संख्या निरंतर बढ़ रही है।

युवाओं के मुद्दों पर भी फोकस
युवाओं को रिझाने के लिए भाजपा युवाओं के मुद्दों पर भी खास फोकस कर रही है। नेहा जोशी के मुताबिक, संवाद कार्यक्रमों के जरिये युवाओं के बीच यह संदेश देने की कोशिश हो रही है कि राज्य में अवस्थापना विकास ही आगे रोजगार की संभावनाओं के दरवाजे खोलेगा। हम युवाओं को यह बता रहे हैं कि पिछले पांच वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में और प्रदेश सरकार के प्रयासों से उत्तराखंड में अवस्थापना विकास पर अभूतपूर्व कार्य हुए। हजारों करोड़ रुपये की परियोजनाओं को धरातल पर उतारे जाने से रोजगार के नए अवसर बनेंगे। बुनियादी सुविधाएं जुटने से उद्योग भी नई जगहों पर शिफ्ट होंगे। जोशी का कहना है कि युवाओं से पार्टी अपील कर रही है कि राष्ट्र व प्रदेश निर्माण के लिए भाजपा के साथ जुड़ें।

आप : युवाओं को रोजगार की गारंटी देकर लुभाने की कोशिश
आगामी चुनाव में आम आदमी पार्टी का युवाओं को साधने पर फोकस है। आप ने सत्ता में आने पर छह माह के भीतर एक लाख से ज्यादा बेरोजगारों को नौकरी देने का एलान किया है। जब तक नौकरी नहीं मिलती है तब तक प्रति माह पांच हजार रुपये भत्ता दिया जाएगा। इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा युवाओं को पार्टी का टिकट देकर चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी है।

आप प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने कहा कि पार्टी के लिए युवा एक ब्रांड एंबेसडर है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कुमाऊं दौरे पर बेरोजगारों को रोजगार की सबसे बड़ी गारंटी दी है। पार्टी की सरकार बनने पर युवाओं को नौकरी दी जाएगी। जब तक नौकरी नहीं मिलेगी तब तक उन्हें पांच हजार रुपये बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी चुनाव में अधिक से अधिक युवाओं को प्रत्याशी बना कर चुनाव में उतारेगी। जिससे प्रदेश के युवाओं की ऊर्जा का इस्तेमाल राजनीति में हो सके।


Like it? Share with your friends!

Home
Add News
Search
9639789000
AllEscort
Choose A Format
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Image
Photo or GIF